Delhi burns

#DelhiBurns #DelhiRiots2020
आज आसमान धुएं से मिल कुछ यूँ काला हुआ
जैसे सांस तो चल रही पर दम घुटा जा रहा था
जल उठा शहर मेरा हर जगह शोर और डर हो गया
सपनो और जूनूनवाली गलियो में बस अब खून था
आखें जो हर किसी का साथ देने को तैयार रहती
अब हर किसी पर सवाल कर रही थी जवाब न था
यह कैसी लड़ाई है जो बेगुनाहो को सज़ा देती है
यह कैसा मंज़र है जो अपने ही घर में कैदी बना रहा था
इन्सानियत को पथरो से घायल होते हुए मरते पाया था
कही भी तो नहीं पहुँच रहा था यह कैसा रास्ता था
कब रुकेगा पता नहीं, कहाँ मुडेगा पता नहीं
जिसने जो खो दिया उसकी कीमत आंक पायेगा.. कभी नहीं

जिसने जो पा लिया इस रास्ते से वोह किसी काबिल न था
खून चला खून करने हर जगह बस खून था
उस खून से जो कहानी बनी वोह क्रूरता के अलावा कुछ और न था!

Aaj aasman dhuan se mil kuch yu kala hua
Jaise saans toh chal rahi par dum ghutta jaa raha tha
Jal utha sheher mera har jagah shor aur dar ho gaya
Sapno aur junoon wali gaaliyon mein bas ab khoon tha
Aakhien joh har kisi ka saath dene ko tayaar rehti
Ab har kisi par sawaal kar rahi thi jawaab na tha
Yeh kaisi Ladayi hai joh begunho ko sazza deti hai
Yeh kya manzaar hai joh apne hi ghar mein kaidi bana raha tha
Insaaniyat ko patharoo se ghayal hote hue marta paya tha
Kahi bhi toh nahi pahucha raha tha yeh kaisa raasta tha.
Kab rukega pata nahi kaha mudega pata nahi
Jisne jo khodiya uski kimmat aank payega kabhi nahi
Jisne jo paaliye is raaste se who kisi kabil na tha
Khoon chala khoon karne har jagah Bas khoon tha
Us khoon se joh kahani bani who kroorta ke alawa kuch aur na tha.

By Swati Sharma

Copyright 2020 © Swati Sharma and Learning with life. All rights reserved.

Published by Swati Sharma

discovering myself

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: